हल्दी से करें बृहस्पति मज़बूत

Read In English


हल्दी भारतीय रसोई में उपयोग की जाने वाली सबसे मूल्यवान जड़ी-बूटियों में से एक है। भारतीय महिलाएं घर में स्वादिष्ट व्यंजन तैयार करते हुए इसका दैनिक उपयोग करती हैं। ऐसा माना जाता है कि हल्दी आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ाती है और पकवान को स्वाद और रंग देती है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि हल्दी का ज्योतिषीय महत्व भी है और यह ज्योतिष में ग्रह बृहस्पति से संबंधित है।

ज्योतिष में बृहस्पति सबसे दयालु और प्राकृतिक लाभकारी ग्रह है। बृहस्पति शिक्षा, वित्त, बच्चों, पति तथा धर्मशिक्षा के लिए कारक है। जब बृहस्पति आपकी जन्म कुंडली में कमजोर या पीड़ित है, तो इनमें से कुछ महत्वों को भुगतना पड़ सकता है। हल्दी आपके चार्ट में बृहस्पति शक्ति को बढ़ाने के लिए एक प्राकृतिक उपचार है। हल्दी में बृहस्पति के प्राकृतिक गुण हैं और इसलिए कई हिंदू अनुष्ठानों और रीति-रिवाजों में हल्दी का उपयोग किया जाता है।

 हल्दी के कुछ  उपाय-

  1. अपने घर के प्रवेश द्वार पर ओम् या स्वस्तिक का चिह्न हल्दी से बनाएं। आप हल्दी से अपने घर की चारदीवारी को भी चिह्नित कर सकते हैं। यह आपके दरवाजे पर सकारात्मक उर्जा का संचार करेगा ।

  2. अपने पूजा कक्ष में एक चुटकी हल्दी के साथ एक गिलास पानी रखें और पूजा करने के बाद इसे पूरे कमरे में छिड़क दें। इससे घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी।

  3. आप नहाते समय पानी के साथ हल्दी भी मिला सकते हैं। यह आपके शरीर और आत्मा को शुद्ध करेगा।

  4. हल्दी का पेस्ट बनाकर अपने माथे पर लगाएं। छात्र आपके माथे पर हल्दी का टीका भी लगा सकते हैं। यह आपको शांत रखेगा और शिक्षा में सफलता प्राप्त करने में सहायक होगा।

  5. हल्दी का पानी पीने से आप बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं और समग्र प्रतिरक्षा को बढ़ावा दे सकते हैं।

  6. मंदिर में हल्दी का पानी और पूजा का अन्य सामान रखना बहुत शुभ होता है।

आपकी जन्म कुंडली में बृहस्पति ग्रह जनित कष्टों को आसान हल्दी उपचार द्वारा कुछ कम किया जा सकता है। यहां तक कि अगर आपकी कुंडली में बृहस्पति मजबूत है, तो इन उपायों को करने से आपका बृहस्पति मजबूत होगा और शिक्षा के विभिन्न क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करने में आपकी मदद करेगा।

VEDIC ANUSHTHAN / PUJA
  • Maha Mrityunjay Anushthaan

  • Kaal Sarp Dosh Nivaran Anushthaan

  • Mrit Sanjivani: मृत संजीवनी

  • Santaan Gopal Anushthan

कैसे अपने दिन को बेहतर बनाये - सुनिए भूमिका कलम की आवाज़ में 

© 2020. Managed by DigiHakk

  • Facebook Clean