Astrology : ऐसे धूप देंगे तो होंगे कई सारे लाभ



Astrology: प्राचीन समय से ही हिंदू धर्म व अन्य धर्मों में विशेष त्यौहार और तिथियों पर पूजा-पाठ के दौरान धूप और हवन किया जाता है, माना जाता है कि हवन और धूप करने से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है और स्थान पर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ने लगता है। ज्योतिषशास्त्र (jyotish shastra) में भी धूप देने का विशेष महत्व है, नियमपूर्वक धूप दी जाए तो जीवन की कई सारी तकलीफें अपने आप ही दूर हो जाती हैं। साथ ही यह भी मान्यता है कि अलग-अलग तरह के धूप का प्रयोग अलग-अलग तरह की परेशानियां दूर करने के लिए किया जाता है। तो आइए यहां जानते हैं धूप कैसे दी जाती है? इसके क्या नियम है और कब किस परेशानी से राहत पाने के लिए कौन सी धूप दी जानी चाहिए

धूप देने के इन नियमों का रखें विशेष ख्याल धर्म के अनुसार प्रतिदिन घर में दीप-धूप करना चाहिए लेकिन यदि ऐसा संभव न हो पाएं तो कोशिश करना चाहिए कि कम से कम तेरस, चौदस, अमावस्या और तेरस, चौदस तथा पूर्णिमा को सुबह-शाम धूप जरूर दें। दीप-धूप करते समय घर की और स्वयं की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। धूप हमेशा ईशान कोण में इस तरह रखें कि उसकी खुशबू घर के सभी कमरों में फैल जाए। साथ ही धूप रखते समय ईश्वर से यह प्रार्थना भी करें कि उनकी कृपा हमेशा ही बनी रहे। धूप देने से होते हैं कई सारे लाभ धूप करने का असर तुरंत देखने को मिलता है, वातावरण में शुद्धि व मन में शांति मिलती है। साथ ही साथ जातक और घर-परिवार में रहने वाले सभी सदस्यों के रोग-शोक भी दूर होते हैं। ग्रहों की उठापटक से होने वाली टेंशन भी धीरे-धीरे कम होने लगती है। ग्रह-क्लेश की समस्या से भी राहत मिलती है। घर में किसी भी तरह की नकारात्मकता प्रवेश नहीं कर पाती। यह धूप दूर कर देती है तंत्र-मंत्र की समस्या अगर आपको लगता है कि आपके घर में किसी ने कुछ तंत्र-मंत्र कर रखा है तो जावित्री, गायत्री और केसर लाकर उसे कूटकर मिला लें। इसके बाद उसमें उचित मात्रा में गुग्गल मिला लें। फिर इस मिश्रण की धूप नियमित रूप से शाम के समय करें। मान्यता है कि यह धूप 21 दिन तक करेंगे तो तांत्रिक अभिकर्म दूर हो जाता है। इस धूप से मिलता है यह विशेष लाभ मान्यता है कि लोबान को सुलगते हुए कंडे या अंगारे पर रख कर जलाने से घर की नकारात्मकता दूर हो जाती है। लेकिन लोबान जलाने से पहले यह जान लें कि इसके कुछ विशेष नियम होते हैं। इसको जलाने से पारलौकिक शक्तियां आकर्षित होती हैं। अत: लोबान को घर में जलाने से पहले किसी जानकार की राय जरूर ले लें। खासतौर पर गुरुवार के दिन किसी समाधि विशेष पर लोबान जलाने से भी पारलौकिक मदद मिलती है। दोष से परेशान हों तो ऐसे जलाएं धूप अगर वास्तुदोष (vastu dosh) से परेशान हों तो घर में सप्ताह में एक या दो बार नीम के पत्ते की धूनी जलाएं। इससे जहां एक और सभी तरह के जीवाणु नष्ट हो जाएंगे वहीं वास्तुदोष (vastu dosh) भी समाप्त हो जाएगा। इसके अलावा प्रत्येक शनिवार की शाम को पीपल की पूजा करके धूप और दीप जलाएं। इस उपाय से जीवन में धन और समृद्दि के मार्ग खुल जाते हैं और शनिदोष भी दूर हो जाता है।