हनुमान जंयती विशेष (Hanuman jayanti 2021) : हनुमाज जी की विशेष पूजा, होंगे सब कष्ट दूर



Hanuman jayanti 2021 : सब सुख लहे तुम्हारी सरना, तुम रक्षक काहू को डरना... कलयुग में श्री हनुमान जी साक्षात भूलोक में विराजमान हैं, भक्तों के कष्टों को दूर करने भगवान किसी न किसी रूप में अवश्य आते हैं। जब भी कोई मुसिबत या परेशानी में भक्त श्री हनुमान जी को याद करते हैं तो वह आकर भक्तों को कष्टों से मुक्ति दिलाते है। मंगलवार और शनिवार को अंजनीपुत्र की पूजा का विशेष महत्व है, इसी के साथ हनुमान जंयती (Hanuman jayanti) पर भगवान हनुमान जी के पूजन का विशेष महत्व होता है। पुराणों और शास्त्रों (Puran and Shastra) के अनुसार हनुमान जी का जन्म चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को हुआ था और इसी दिन को हनुमान जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष पूर्णिमा 26 अप्रैल को दोपहर 11:45 बजे से लग जाएगी जो अगले दिन 27 अप्रैल को सुबह 9:27 बजे तक रहेगी। ऐसे में उदया तिथि का मान लेते हुए सूर्योदय के बाद से पूरे दिन मंगलवार को राम भक्त हनुमान की जयंती मनाई जाएगी। ज्योतिषशास्त्र (jyotish shastra) में बताया गया है कि इस दिन कुछ उपाय (remedy) किए जाएं तो जीवन में सुख-समृद्धि का वास होता है। आइए जानते हैं इन उपायों (remedies) के बारे में





हनुमान जी को प्रसन्न करने के विशेष पाठ

हनुमान जयंती (Hanuman jayanti) के दिन सुंदरकांड, हनुमान चालीसा, हनुमान अष्टक और बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए। इसके साथ ही रामायण और राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करना भी शुभ माना गया है। इस शुभ दिन पर हनुमानजी की पूजा और पाठ करने से मानसिक और शारीरिक शक्ति मिलती है और घर-परिवार में सुख-शांति भी आती है।


गुलाब माला और चमेली के तेल का दीपक से विशेष लाभ

हनुमान जयंती (Hanuman jayanti) के दिन हनुमान मंदिर जाकर बजरंगबली का कोई भी मंत्र का जप करें और 11 बार हनुमान चालिसा का पाठ करें। फिर गुलाब की माला पहनाएं और एक चमेली के तेल का दीपक जलाएं और एक शुद्ध देसी घी का दीपक जलाएं। ऐसा करने से हनुमानजी की विशेष कृपा प्राप्त होती है और कोई भी बुरा प्रभाव आप पर नहीं पड़ता है।


धन प्राप्ति के लिए ऐसे करें पूजा

धन से जुड़ी कोई समस्या है तो हनुमान जयंती (hanuman jayanti 2021) के दिन हनुमानजी के सामने चमेली के तेल का दीपक जलाएं और एक अच्छा सा चोला हनुमानजी को अर्पित करें। इसके अलावा 11 पीपल के पत्तों को गंगाजल से साफ करके उन पर सिंदूर से श्रीराम लिखकर हनुमानजी को अर्पित कर दें। ऐसा करने से आर्थिक समस्याएं दूर होंगी और धन प्राप्ति के योग भी बनने लगते हैं।





इस पूजा से नौकरी व कारोबार की समस्या होगी दूर

नौकरी व कारोबार की समस्या से परेशान हैं तो हनुमान जयंती (hanuman jayanti 2021) के दिन पान के एक पत्ते पर बूंदी के दो लड्डू और एक लौंग भी रख दें। इस पर चांदी की भस्म लगाकर हनुमानजी को चढ़ा दें और केवड़े का इत्र अर्पित कर दें। इसके साथ ही सुंदरकांड या राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करें। ऐसा करने से नौकरी में नए अवसर मिलेंगे और कारोबार में वृद्धि होने लगेगी।


21 सिक्के और साबुत धनिया से होगा धन आगमन

हनुमान जयंती के दिन एक मिट्टी के बर्तन में साबुत सूखा धनिया और 21 रुपए के सिक्के डालकर ऊपर से मिट्टी डाल दें। इसके बाद मिट्टी व धनिया को हल्के हाथ से मिला लें और थोड़ा सा पानी डाल दें। इसके बाद बर्तन को उत्तर की दिशा में रख दें और हर रोज थोड़ा सा पानी दें, जब तक धनिया निकल न आए। इसके बाद धनिया को उपयोग करें और सिक्कों को लाल कपड़े में बांधकर घर या कार्य स्थल में लटका दें। ऐसा करने से धन का आगमन होता है और कोष में भी वृद्धि होती है।


धन और वैभव की प्राप्ति के लिए

चैत्र पूर्णिमा पर करें ये उपायदरिद्रता का होता है अंतहनुमान जयंती के दिन हनुमान मंदिर में जाकर दाएं हाथ के अंगूठे से उनके मस्तक का सिंदूर लेकर माता सीता के चरणों में लगा दें। इसके बाद उनके अपनी मनोकामना के लिए कहें। फिर शाम के वक्त बूंदी का भोग लगाएं और प्रसाद को वितरण कर दें। ऐसा करने से दरिद्रता का अंत होता और भाग्य भी साथ देने लगता है। साथ ही धीरे-धीरे आपके सभी अटके हुए कार्य बनने लगते हैं।


सभी प्रकार के कष्ट होते हैं दूर

हनुमान जयंती के दिन हनुमान जी को बनारसी पान चढ़ाएं और हनुमान मंदिर में 11 काले उड़द के दाने, सिंदूर, फूल, चमेली का तेल, प्रसाद, गुलाब के फूल की माता आदि अर्पित करें। इसके बाद हनुमान चालीसा या फिर सुंदरकांड का पाठ करें। ऐसा करने से सभी प्रकार के कष्ट और क्लेश नष्ट हो जाते हैं और जीवन में सुख-शांति और तरक्की बनी रहती है।