Makar Rashifal : मकर राशिफल


मकर राशिफल (today)

कार्ड के अनुसार आज आपको कुछ खास काम की नई जिम्मेदारी सौपी जा सकती है, जिसको आप बखूबी अंजाम देंगे।आप कुछ नया करने के लिए हमेशा तैयार से रहैंगे,ओर कार्य को एन्जॉय करेंगे। आपकी समझ के दायरे भी बढ़ेंगे। आपका मन दयालु भाव का रहेगा। लकी कलर – क्रीम, लकी नंबर – 5

_________________________________________________________________________


मकर राशिफल (2020 year)

मकर राशिफल 2020 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2020 का राशिफल मकर लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है.  राशिफल  2020 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

विशेष :

  • इस वर्ष ‘वृहस्पति’ धनु राशि में हैं और नवम्बर महीने में के अन्तिम सप्ताह तक धनु राशि में ही बने रहेंगे | इस वर्ष के मध्य भाग 30 मार्च से जून तक मकर राशि में वक्री और मार्गी होंगे | ‘वृहस्पति’ का सबसे ज्यादा प्रभाव धनु राशि पर होगा |

  • ‘शनि’ 24 जनवरी को मकर राशि में प्रवेश करेंगे और पूरे वर्ष पर्यन्त मकर राशि में रहेंगे |

  • ‘राहू’ और ‘केतू’ सितम्बर महीने तक क्रमशः मिथुन राशि और धनु राशि में रहेंगे और सितम्बर के बाद वृषभ और वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे, और पूरे वर्ष पर्यन्त रहेंगे |

  • ‘मंगल’ इस पूरे  वर्ष पर्यन्त क्रमशः धनु , मकर, कुम्भ, मीन और मेष राशि में रहने वाले हैं |

  • इस वर्ष ‘शनि ढ़ैया’ जनवरी में वृषभ और कन्या राशि के लिये समाप्त होगी , परन्तु तुला और मिथुन राशि के लिये शनि ढ़ैया प्रारम्भ होगी | ‘शनि साढ़ेसाती’ से इस वर्ष वृश्चिक राशि पूरी तरह से मुक्त रहेगी | धनु  राशि के लिये ‘शनि साढ़ेसाती’ का अन्तिम वर्ष रहेगा | मकर राशि के लिये मध्य वर्ष रहेगा | और कुम्भ राशि के लिये ‘शनि साढ़ेसाती’ प्रारम्भ होगी | 


कॅरियर और फायनेंस की दृष्टि से यह वर्ष सामान्य रहेगा | इस वर्ष का प्रथम, मध्य और अन्तिम भाग आपके लिए उन्नति दायक है | आपके लिये पदोन्नति का योग बना हुआ है | कार्य-व्यापार में वृद्धि  का योग बना हुआ है | कार्यक्षेत्र में स्थान परिवर्तन का योग अच्छी सफलता के साथ  बना हुआ है | परिश्रम का उचित परिणाम मिलेगा | सुदूर की यात्रा (विदेशों में कार्य-व्यापार) से लाभ मिलेगा | आपकी बौधिक क्षमता काफी अच्छी रहेगी |जिसका उचित लाभ आपको मिलेगा |

आर्थिक दृष्टि से इस वर्ष आप धन निवेश कर सकते हैं | कार्य-व्यापार में नए बदलाव से लाभ मिलेगा | धन बचत अच्छी होगी | कुछ लोगों के लिए कर्ज लेने की स्थिति बन सकती है, ऐसा योग बना हुआ है | साझेदारी में किया हुआ व्यापार डूब सकता है | इस आपके सहयोगी साझेदारों को हानि होगी |

आप अपने भोग-विलास की वस्तुओं पर अत्यधिक धन खर्च करेंगे | इसके कारण आप धन बचत नहीं कर पायेंगे | इस वर्ष प्रेम-सम्बन्धों और वैवाहिक जीवन के दृष्टिकोण से आपके प्रतिकूल रहने वाला है | प्रेम सम्बन्धों में कटुता रहेगी | रिश्तों में अस्थिरता बनेगी |

बहुत से लोगों के लिए विवाह की बात चलेगी, परन्तु बात नहीं बनेगी | जीवन-साथी से वाद-विवाद होगा | रिश्तों में कड़वाहट उत्पन्न होगी | जिससे आपका व्यक्तिगत जीवन प्रभावित होगा | बहुत से लोगों के रिश्ते टूट भी सकते हैं | इस वर्ष अज्ञात शत्रु बनेंगे |

शिक्षा के मामले में यह वर्ष काफी अच्छा है | शिक्षा के क्षेत्र में अच्छी सफलता मिलने का योग बन रहा है | किसी प्रकार की प्रतियोगिता हो उसमे आपको सफलता मिलेगी | जो लोग नए विषयों पर शोध कर रहे हैं | उनके लिए यह वर्ष काफी अच्छा रहेगा | पढ़ाई में मन लगेगा तथा नई उपलब्धियाँ हाँसिल करेंगे |

सुदूर से शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं तो उसमे आपको अच्छी सफलता का योग बना हुआ है | स्वास्थ की दृष्टिकोण से यह वर्ष सामान्य रहेगा |  पहले से कोई बड़ी बिमारी है तो उसमे सुधार होगा | छोटी-मोटी समस्याएँ आ सकती हैं | ग्रह दोष के कारण स्वास्थ खराब होगा तो जल्दी ठीक नहीं होगा |

सन्तान से वैचारिक मतभेद के कारण दूर होने की संभावना है | पेट से सम्बन्धित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है | इस पूरे वर्ष आपके पिता से वैचारिक मतभेद रहेगा | आपके बड़े अधिकारियों से अच्छा सयोग मिलेगा | पैतृक सम्पत्ति में आपके लिए हानि का योग बना हुआ है | पैतृक सम्पत्ति को लेकार भाई-बहनों के रिश्तों में मनमुटाव रहेगा |

सावधानी

  • आप अपने गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें |

  • अपने करीबियों से सावधान रहें |

  • परिश्रम से घबरायें नहीं |

  • कार्य-व्यापार में परिवर्तन करें |

  • इससे लाभ मिलेगा |

  • रिश्तों की दृष्टि से इस वर्ष महीने तक सावधान रहने की आवश्यकता है |

  • इस वर्ष आप अपनी गोपनीयता की चर्चा किसीसे ना करें |

  • सन्तान के प्रति मतभेद या दूरी बने तो उसे कम करने का प्रयास करें |

  • स्वास्थ की दृष्टि से अपने पेट के प्रति सावधान रहें |

  • लाभ के लिए “हनुमानजी” और “शिवजी” की नियमित आराधना करें |

  • अकेले कहीं वीराने में जाने से बचें |

© 2023. Managed by DigiHakk

  • YouTube
  • Facebook Clean
  • Instagram