Makar Rashifal : मकर राशिफल


मकर राशिफल (today)

आज  पुराने कार्यों के आकलन का दिन है, प्रकृति के अनुरूप व्यवहार और कार्य करना आपको भविष्य में सफलता दिलाएगा |

लकी कलर - आसमानी, लकी नंबर -3

_________________________________________________________________________________________


मकर राशिफल (2020 year)

मकर राशिफल 2020 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2020 का राशिफल मकर लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है.  राशिफल  2020 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

विशेष :

  • इस वर्ष ‘वृहस्पति’ धनु राशि में हैं और नवम्बर महीने में के अन्तिम सप्ताह तक धनु राशि में ही बने रहेंगे | इस वर्ष के मध्य भाग 30 मार्च से जून तक मकर राशि में वक्री और मार्गी होंगे | ‘वृहस्पति’ का सबसे ज्यादा प्रभाव धनु राशि पर होगा |

  • ‘शनि’ 24 जनवरी को मकर राशि में प्रवेश करेंगे और पूरे वर्ष पर्यन्त मकर राशि में रहेंगे |

  • ‘राहू’ और ‘केतू’ सितम्बर महीने तक क्रमशः मिथुन राशि और धनु राशि में रहेंगे और सितम्बर के बाद वृषभ और वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे, और पूरे वर्ष पर्यन्त रहेंगे |

  • ‘मंगल’ इस पूरे  वर्ष पर्यन्त क्रमशः धनु , मकर, कुम्भ, मीन और मेष राशि में रहने वाले हैं |

  • इस वर्ष ‘शनि ढ़ैया’ जनवरी में वृषभ और कन्या राशि के लिये समाप्त होगी , परन्तु तुला और मिथुन राशि के लिये शनि ढ़ैया प्रारम्भ होगी | ‘शनि साढ़ेसाती’ से इस वर्ष वृश्चिक राशि पूरी तरह से मुक्त रहेगी | धनु  राशि के लिये ‘शनि साढ़ेसाती’ का अन्तिम वर्ष रहेगा | मकर राशि के लिये मध्य वर्ष रहेगा | और कुम्भ राशि के लिये ‘शनि साढ़ेसाती’ प्रारम्भ होगी | 


कॅरियर और फायनेंस की दृष्टि से यह वर्ष सामान्य रहेगा | इस वर्ष का प्रथम, मध्य और अन्तिम भाग आपके लिए उन्नति दायक है | आपके लिये पदोन्नति का योग बना हुआ है | कार्य-व्यापार में वृद्धि  का योग बना हुआ है | कार्यक्षेत्र में स्थान परिवर्तन का योग अच्छी सफलता के साथ  बना हुआ है | परिश्रम का उचित परिणाम मिलेगा | सुदूर की यात्रा (विदेशों में कार्य-व्यापार) से लाभ मिलेगा | आपकी बौधिक क्षमता काफी अच्छी रहेगी |जिसका उचित लाभ आपको मिलेगा |

आर्थिक दृष्टि से इस वर्ष आप धन निवेश कर सकते हैं | कार्य-व्यापार में नए बदलाव से लाभ मिलेगा | धन बचत अच्छी होगी | कुछ लोगों के लिए कर्ज लेने की स्थिति बन सकती है, ऐसा योग बना हुआ है | साझेदारी में किया हुआ व्यापार डूब सकता है | इस आपके सहयोगी साझेदारों को हानि होगी |

आप अपने भोग-विलास की वस्तुओं पर अत्यधिक धन खर्च करेंगे | इसके कारण आप धन बचत नहीं कर पायेंगे | इस वर्ष प्रेम-सम्बन्धों और वैवाहिक जीवन के दृष्टिकोण से आपके प्रतिकूल रहने वाला है | प्रेम सम्बन्धों में कटुता रहेगी | रिश्तों में अस्थिरता बनेगी |

बहुत से लोगों के लिए विवाह की बात चलेगी, परन्तु बात नहीं बनेगी | जीवन-साथी से वाद-विवाद होगा | रिश्तों में कड़वाहट उत्पन्न होगी | जिससे आपका व्यक्तिगत जीवन प्रभावित होगा | बहुत से लोगों के रिश्ते टूट भी सकते हैं | इस वर्ष अज्ञात शत्रु बनेंगे |

शिक्षा के मामले में यह वर्ष काफी अच्छा है | शिक्षा के क्षेत्र में अच्छी सफलता मिलने का योग बन रहा है | किसी प्रकार की प्रतियोगिता हो उसमे आपको सफलता मिलेगी | जो लोग नए विषयों पर शोध कर रहे हैं | उनके लिए यह वर्ष काफी अच्छा रहेगा | पढ़ाई में मन लगेगा तथा नई उपलब्धियाँ हाँसिल करेंगे |

सुदूर से शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं तो उसमे आपको अच्छी सफलता का योग बना हुआ है | स्वास्थ की दृष्टिकोण से यह वर्ष सामान्य रहेगा |  पहले से कोई बड़ी बिमारी है तो उसमे सुधार होगा | छोटी-मोटी समस्याएँ आ सकती हैं | ग्रह दोष के कारण स्वास्थ खराब होगा तो जल्दी ठीक नहीं होगा |

सन्तान से वैचारिक मतभेद के कारण दूर होने की संभावना है | पेट से सम्बन्धित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है | इस पूरे वर्ष आपके पिता से वैचारिक मतभेद रहेगा | आपके बड़े अधिकारियों से अच्छा सयोग मिलेगा | पैतृक सम्पत्ति में आपके लिए हानि का योग बना हुआ है | पैतृक सम्पत्ति को लेकार भाई-बहनों के रिश्तों में मनमुटाव रहेगा |

सावधानी

  • आप अपने गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें |

  • अपने करीबियों से सावधान रहें |

  • परिश्रम से घबरायें नहीं |

  • कार्य-व्यापार में परिवर्तन करें |

  • इससे लाभ मिलेगा |

  • रिश्तों की दृष्टि से इस वर्ष महीने तक सावधान रहने की आवश्यकता है |

  • इस वर्ष आप अपनी गोपनीयता की चर्चा किसीसे ना करें |

  • सन्तान के प्रति मतभेद या दूरी बने तो उसे कम करने का प्रयास करें |

  • स्वास्थ की दृष्टि से अपने पेट के प्रति सावधान रहें |

  • लाभ के लिए “हनुमानजी” और “शिवजी” की नियमित आराधना करें |

  • अकेले कहीं वीराने में जाने से बचें |

VEDIC ANUSHTHAN / PUJA
  • Maha Mrityunjay Anushthaan

  • Kaal Sarp Dosh Nivaran Anushthaan

  • Mrit Sanjivani: मृत संजीवनी

  • Santaan Gopal Anushthan

कैसे अपने दिन को बेहतर बनाये - सुनिए भूमिका कलम की आवाज़ में 

© 2020. Managed by DigiHakk

  • Facebook Clean