नाग पंचमी (Naag Panchami) पर करें विशेष उपाय (remedy), जल्द मिलेगी उन्नति, संतान और ऐश्वर्य



भगवान शिव के गले में स्थान पाने वाले नागों की हिंदू धर्म में पूजा की जाती है, दरअसल ग्रहों के समान नागों को भी प्रभावशाली माना गया है। मान्यता है कि नाग पंचमी (naag panchami) के दिन नाग देवता के साथ-साथ भगवान शिव की पूजा करने से सर्पदंश का भय नहीं रहता साथ ही ग्रहों का प्रतिकूल असर भी दूर होता है। नागों के पूजन का विशेष दिन नाग पंचमी (naag panchami) होता है। यह त्योहार हर साल सावन मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस बार यह शुभ तिथि 13 अगस्त दिन शुक्रवार को है। नाग को देवता के रूप में पूजा जाता है, इनका धार्मिक और पौराणिक महत्व भी है। नाग भगवान शिव के हार रूप में नजर आते हैं तो वहीं भगवान विष्णु की शैय्या रूप में। इतना ही नहीं सागर मंथन के समय नाग को महत्वपूर्ण भूमिका में रस्सी रूप में दिखाया गया है। पुराणों में तो कई दिव्य नाग और नागलोक तक का जिक्र किया है। इन्हीं कथाओं और मान्यताओं के कारण हिंदू धर्म में नागों को देवताओं के समान पूजनीय बताया गया है और पंचमी तिथि को नाग देवता को समर्पित किया गया है। कुंडली (kundali) में अगर कालसर्प योग, ग्रहण योग, गुरु चांडाल योग आदि अशुभ योग पाए जाते हैं तो नाग पंचमी (naag panchami) के दिन नाग देवता की पूजा करके इन दोषों से मुक्ति पा सकते हैं। कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए इस दिन भारत के विभिन्न तीर्थ स्थलों पर नाग देवता की पूजा आराधना की जाती है। नाग पंचमी के दिन कुछ उपाय (remedy) और पूजन कर जीवन में आने वाली कई परेशानियों से बचा जा सकता है और अनिष्ट और अशुभ ग्रहों को शांत किया जा सकता है। आईय जानते है नाग पंचमी के दिन किए जाने वाले विशेष उपाय (remedy) -

1. नाग पंचमी (naag panchami) के दिन चीटिंयों को आटे में शक्कर मिलाकर खिलाना चाहिए, इससे राहू दोष दूर होते है। 2. यदि आप राहू दोष (rahu dosh) से पीड़ित हैं तो नाग पंचमी के दिन नदी में नारियल प्रवाहित करें साथ ही साथ लाल कपड़े में 1 नारियल 11 बादाम रखकर मंदिर में दान करें। 3. राहू ग्रह को शांत करने के लिए ॐ वासुकेय नम: के मंत्र का जाप करें, रुद्राष्ट धायी का पाठ करें। 4. आर्थिक परेशानी और शारीरिक एवं मानसिक तनाव से मुक्ति पाने के लिए नागपंचमी के दिन 1 मुखी 8मुखी या 9 मुखी रूद्राक्ष धारण करें । आर्थिक तंगी से परेशान हैं तो आप नाग पंचमी के दिन दो रंग वाला कंबल दान करें। 5. यदि आप लगातार मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं और आर्थिक रूप से भी परेशान हैं तो नाग पंचमी के दिन दूध और शहद के साथ शिव जी का अभिषेक कर रूद्र शुक्त का पाठ करे। 6. नाग पंचमी के दिन शिव और नाग पूजन कर चांदी की ठोस गोली हमेशा अपने पास रखे। 7. यदि आप जल्द से जल्द संतान सुख प्राप्त करना चाहते हैं तो नाग पंचमी के दिन बेल पत्र को दूध में डाल कर भगवान शिव को अर्पित करें और ॐ सर्पाय नम: का जाप करे। मुख्य द्वार पर अष्ट धातु का स्वास्तिक लगाए। 8. सरकारी नौकरी और बिजनेस के लिए नाग पंचमी के दिन बटुक भैरव को दही और गुड़ का भोग लगाए। 9. मानसिक कष्ट, नजर दोष को दूर करने के लिए नाग पंचमी के दिन 11 नारियल अपने उपर से उतारकर 5 किलो चावल, 3 मीटर सफेद कपड़ा मंदिर में पुजारी को दान करे।